बुधवार, अगस्त 28

बने तेरा मधुबन, ओ कान्हा !हमारा मन



बने तेरा मधुबन, ओ कान्हा !हमारा मन


सद्भावों की लताओं पर उगें शांति पुष्प
 झर सम सहज अश्रु हों तुझी को अर्पण !

प्रेम जलधार बहे उड़े उमंग की फुहार
स्नेह सुवास भरे चले शीतल बयार !

अंतर की पुलक शुभ्र माल बन सजे
श्रद्धा, ज्ञान, निष्ठा के दीप जल उठें

दोष कंटक बीन सुख शिला पर हो अर्चन
शुभ संकल्पों से आरती श्वासों से वन्दन


बने तेरा मधुबन, ओ कान्हा ! हमारा मन 

11 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुंदर ..... जन्माष्टमी की शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  2. कृष्ण जन्मदिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  3. बने तेरा मधुबन, ओ कान्हा ! हमारा मन
    बहुत खुबसूरत भाव !
    latest postएक बार फिर आ जाओ कृष्ण।

    उत्तर देंहटाएं
  4. कृष्ण जन्माष्टमी की बहुत बहुत शुभकामनायें

    हिंदी ब्लॉग समूह चर्चा-अंकः8

    उत्तर देंहटाएं
  5. श्री कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  6. ऐसा ही हो! जन्माष्टमी की शुभकामनायें!

    उत्तर देंहटाएं
  7. श्याम ! मुझे अपनी गोपी बना लो , मेरा जन्म सफल हो जाए ।

    उत्तर देंहटाएं
  8. संगीता जी, अनु जी, कालीपद जी, दर्शन जी, शालिनी जी, अनुराग जी, निहार जी, प्रतिभा जी, व शकुंतला जी आप सभी को कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक बधाई और आभार !

    उत्तर देंहटाएं