सोमवार, दिसंबर 19

तुम धरती के नमक बनो


तुम धरती के नमक बनो


येरूशलम का बेतलेहम गाँव
पूर्व दिशा में चमका तारा,
मरियम-युसूफ के घर जन्मा
परम पिता का पुत्र दुलारा !

हेरोदस राजा घबराया
ज्योतिषियों को तब बुलवाया,
खोजो शिशु को, भेजा उनको
दिल में उसके पाप समाया !

ज्योतिषी गण गौशाले आये
सोना, गंध, लोबान चढ़ाए,
आयी है एक दिव्य आत्मा
कर प्रणाम उसे मुस्काए !

युसूफ को भी मिला संदेश
मरियम व यीशू को बचाओ,
हेरोदस का देश त्याग तुम
मिस्र देश में शीघ्र ही जाओ !

युसूफ तब गलील जा पहुँचा
यीशू तभी नासरी कहलाया,
राजा को भी क्रोध उठा, कई
नन्हें बच्चों को मरवाया !

यूहन्ना इक ज्ञानी आये
यीशू के बारे में बताते,
स्वर्ग राज्य अब निकट आ गया
चर्चा कर फूले न समाते !

यीशू भी गलील से आये
बपतिस्मा लेने तब उनसे,
परम पिता की कृपा मिली तब
हुए प्रसन्न यीशू के तप से !

रोटी से ही नहीं है जीवित
मानव प्रभु के वचन से जीता,
परम पिता की आज्ञा में रह
उसके प्रेम की न ले परीक्षा !

यीशू पुनः गलील लौट गए,
यूहन्ना को जब कैद किया,
धर्म प्रचार किया लोगों में  
दो मछुवों को शिष्यत्व दिया !  

रोगीजन स्वस्थ हो जाते
यीशू जब उपदेश सुनाते,
दुखों में डोल रहे थे जो जन
निकट आ उनके राहत पाते !

दिया पहाड़ी पर उपदेश
दीन बनो, तुम नम्र बनो,
धर्म मार्ग पर सदा चलो
हृदय शुद्ध कर दयावान हो !

मेल-मिलाप रहे आपस में
दुःख से कभी न घबराओ,
स्वर्ग मिलेगा. धरा का सुख भी
परम पिता पर श्रद्धा लाओ !

तुम धरती के नमक बनो
और जगत की ज्योति भी,
तुमसे वह प्रकाश उठेगा
चमक उठेगी परम प्रीति भी !

गाँव-गाँव में घूमे यीशू
अद्भुत कथा, कहानी कहते,
भोले लोगों को समझाते
उन्हें कुरीति से छुड़वाते !

क्रिसमस उत्सव आया आज
प्रभु यीशू की याद दिलाने,
रक्त बहाया जिसने अपना
उस पावन की कथा सुनाने !    

7 टिप्‍पणियां:

  1. क्रिसमस के दिन के उपलक्ष में अच्छी रचना है ... बधाई इस रचना के लिए ...

    उत्तर देंहटाएं
  2. हमारा सलाम हो मसीहा पर खुदा का नूर हो उन पर........आमीन

    इस पोस्ट की तारीफ़ के लिए अल्फाज़ नहीं है बहुत ही सुन्दरता से आपने कविता का रूप दिया है इस उत्कृष्ट रचना के लिए.......हैट्स ऑफ|

    उत्तर देंहटाएं
  3. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  4. यीशु की गाथा सुंदर कविता के रूप में ...

    उत्तर देंहटाएं
  5. इमरान जी, आपका कमेन्ट स्पैम में चला गया था पता नहीं क्यों... रश्मि जी, दिगम्बर जी, रजनीश जी व इमरान जी आप सभी को क्रिसमस की शुभकामनायें व आभार!

    उत्तर देंहटाएं