शनिवार, मार्च 9

महाशिवरात्रि के अवसर पर शुभकामनाओं सहित



शम्भो शंकर हे महादेव


शूलपाणि, हे गंगाधर, हे महादेव, औघड़ दाता
हे त्रिपुरारी, शंकर शम्भो, हे जगनायक, जग के त्राता !

हे शिव, भोले, मृत्युंजय हे, तुम नीलकंठ, जटाधारी
हो आशुतोष, अनंत, अनादि, हे अडोल, नागधारी !

 हे अंशुमान, त्रिनेत्रधारी, अभयंकर, हे महाकाल
विश्वेश्वर, हे जगतपिता, हे सुंदर आनन, उच्च भाल !

कैलाशपति, हे गौरीनाथ, हे शक्तिमान, डमरू धारी
हे महारूद्र, काल भैरव, तुम भूतनाथ, गरल धारी !  

हे शार्दूल, हो तेजपुंज, हे सर्वेश्वर, नन्दीश्वर हे
त्रयम्बक, पशुपतिनाथ, हे आदिदेव हर हर हर हे !

हे विरूपाक्ष, निराकार, हे महेश, चन्द्रशेखर
सदाशिवं, हे चिदानंद, विशम्भर, हे शैलेश्वर !

भस्म विभूषित, करुणाकर, प्रलयंकर, सुंदराक्ष
हे विश्वात्मा, तुम जगतबीज, ताण्डवकर्ता, हे नटराज !  

महेश्वरा, त्रिभुवन पालक, काशीनाथ हे जगदीश्वर
नमोः नमः हे शम्भुनाथ, नमोः नमः हे सोमेश्वर !

तुम बहाते ज्ञान गंगा, मौनधारी तत्व हो तुम
हे अडोल पर्वत जैसे, कैलाश पति अमृत हो तुम !

विमल तुम्हारा मन भी, ज्यों शुभ्र श्वेत धवल हिम
अंतर्ज्योति से जलते भीतर, आकार है ब्रह्मांड सम !

7 टिप्‍पणियां:

  1. बहत ही सुन्दर शिव नाम-स्तुति -बहत सुन्दर
    latest postमहाशिव रात्रि
    latest postअहम् का गुलाम (भाग एक )

    उत्तर देंहटाएं
  2. मनोरम , मनभावन..अति पावन..

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत खूब सार्धक लाजबाब अभिव्यक्ति।
    महाशिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएँ ! सादर
    आज की मेरी नई रचना आपके विचारो के इंतजार में
    अर्ज सुनिये
    कृपया मेरे ब्लॉग का भी अनुसरण करे

    उत्तर देंहटाएं
  4. शिवरात्रि के पर्व पर शिव को समर्पित सुन्दर प्रस्तुति.

    महाशिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  5. जय बम बम भोले ...
    सुन्दर शिव-स्तुति ... महाशिवरात्रि की बधाई ...

    उत्तर देंहटाएं
  6. रविकर जी, अमृता जी, दिनेश जी, रचना जी, दिगम्बर जी व कालीपद जी आप सभी का सुस्वागत व आभार !

    उत्तर देंहटाएं